Mor pakshi. मोर पर अनुच्छेद 2022-12-10

Mor pakshi Rating: 9,5/10 1876 reviews

The term "mor pakshi" refers to a type of bird in the Indian subcontinent. In Hindi, "mor" means "peacock" and "pakshi" means "bird," so "mor pakshi" literally translates to "peacock bird."

The peacock is a well-known and beloved bird in India and is the national bird of the country. It is known for its vibrant, iridescent feathers, which are predominantly blue and green in color. The male peacock is particularly known for its large, elaborate tail feathers, which it displays to attract females during mating season. The female peacock, on the other hand, is less showy and is known for its brownish-gray feathers.

In Hindu mythology, the peacock is considered to be a symbol of purity and grace. It is associated with the god Krishna, who is often depicted wearing a crown of peacock feathers. In Hindu culture, the peacock is also considered to be a guardian against evil spirits and is believed to have medicinal properties.

In addition to its cultural and spiritual significance, the peacock is also an important species in the Indian ecosystem. It is a carnivorous bird and feeds on insects, rodents, and small reptiles. It is an important predator in the food chain and helps to keep the populations of these animals in check.

Despite its importance, the peacock is facing numerous threats to its survival. Habitat loss, pollution, and illegal hunting are all contributing to a decline in the peacock population. In order to protect this beautiful and important bird, it is essential that we take steps to preserve its habitat and address the various threats it faces. This may include measures such as conservation efforts, habitat restoration, and stricter laws to prevent hunting and poaching.

In conclusion, the mor pakshi, or peacock, is a beloved and important species in India and holds a special place in the country's culture and mythology. It is essential that we work to protect this beautiful bird and ensure its continued survival in the face of various threats.

राष्ट्रीय पक्षी मोर पर निबंध लेखन

mor pakshi

इस कानून के बनने के बाद मोर की शिकार में कुछ हद तक कमी आई है लेकिन लोग आप भी इसका शिकार कर रहे है. मोर फक्त भारताचाच नव्हे तर म्यानमार चा देखील राष्ट्रीय पक्षी आहे. मोराचे आयुष्य किती वर्षे असते? पावसाळ्याच्या दिवसात मोर आपला पिसारा फुलवून नृत्य करतो. आणि भारतातील गावांमध्ये त्यांना दिलेल्या भावनिक स्नेहाखाली ते निर्भयपणे गावांच्या रस्त्यावर फिरतात. मोराच्या डोक्यावर एक पंख असलेला तुरा असतो जो लहान आणि निळ्या पंखांनी आच्छादित असतो.

Next

Essay on Peacock in Hindi

mor pakshi

मोराच्या मादीला लांडोर म्हणतात, तिला पिसारा नसतो व ती आकर्षकही दिसत नाही. भारताचा राष्ट्रीय पक्षी मोर: आपल्या सर्वांना माहित आहे की मोराला 1963 मध्ये राष्ट्रीय पक्षी घोषित करण्यात आले होते. मोर हा पक्षी आकाराने इतर पक्ष्यांपेक्षा मोठा आहे. मोर पर कवियों द्वारा कविताओं के माध्यम से इसकी सुंदरता का जिक्र किया गया है और साथ ही भारत की पुरानी संस्कृति में इसकी झलक दिखाई देती है मोर हमारे भारत देश की आन-बान और शान है कृपया इसका शिकार होने से बचाएं क्योंकि दिन-प्रतिदिन इनकी संख्या कम होती जा रही है इसलिए लोगों को मोर के महत्व के बारे में आप लोग अवगत कराएं. त्याची घरटी बांधण्याची वेळ जानेवारी ते ऑक्टोबर पर्यंत असते. मोर का जीवनकाल 15 से 25 वर्ष का होता है इसके पंखों की लंबाई करीब 1 मीटर से भी ज्यादा होती है. मोर बारिश के दिनों में बारिश आने से पहले ही जोर जोर से आवाज करके उसका संकेत दे देता है और साथ ही जब बारिश का मौसम आता है तो मोर अपने पंख फैलाकर ऐसे नाचता है कि मानो वह बारिश का स्वागत कर रहा हो.

Next

मोर

mor pakshi

मोराला खूप सुंदर आणि रंगीबेरंगी पिसेही असतात. हा पिसारा अतिशय सुंदर असा रंगबिरंगी पंख्यासारखा दिसतो. मोर हमेशा इंसानों से दूर ही रहना पसंद करता है यह अक्सर बड़े पेड़ों की ऊंची डाल पर या फिर जंगलों में पाया जाता है. The neck of the peacock is high and swaying. संपूर्ण भारतात मोर आढळतात. भगवान श्रीकृष्णाला मूर्ती अतिशय आवडतो म्हणून त्याच्या मुकुट यामध्ये मोरपीस लावलेली असते.

Next

हमारा राष्ट्रीय पक्षी मोर पर निबंध

mor pakshi

मोर का शरीर नीली और बैंगनी रंग से सजा हुआ होता है, जब की मोरनी इतनी सुंदर नहीं होती है उसके बड़े-बड़े पंख भी नहीं होते हैं साथ ही वह भूरे और मटमैले सफेद रंग की होती है. बऱ्याच वेळा राजस्थानच्या शहरी भागात ते आरामात रस्ता ओलांडताना दिसतात आणि त्यांच्यासाठी वाहतूकही थांबते. आपल्या भारत देशात वेगवेगळ्या प्रकारचे अनेक जातीचे असे अनेक पक्षी आहेत पण मोर हा पक्षी दिसायला खूप सुंदर आहे म्हणून तो मला आवडतो. मौत के पैरों का रंग मटमैला सफेद होता है. भारत में जब मानसून आता है तो मोर बहुत खुश होता है और वह खुश होकर अपने पंखों को फैलाकर धीमी गति से नाचता है जो कि देखने में बहुत ही सुंदर लगता है साथ ही जल्दी से मादा मोरनी को खुश करना होता है तो यह उसके सामने पंख फैलाकर नाचता है यह नृत्य करते समय नाचने में इतना मगन हो जाता है कि उसे आसपास क्या हो रहा है इसका पता नहीं रहता है और शिकारी इसी का फायदा उठाकर मोर को पकड़ लेते है. Peacock का वजन 5 से 10 किलो का होता है.

Next

मोर पर निबंध

mor pakshi

याशिवाय भगवान शिवपुत्र कार्तिकचे वाहन देखील मोर आहे. मोर पक्षी इतर पक्षांच्या तुलनेत मोठा असतो. मोरांची संख्या वाढवण्यासाठी भारत सरकार मोर संवर्धन मोहिमांचे अनेक प्रकार चालवत आहे. मला देखील पक्षी पाहणे आवडते. मोर का वजन भारी होने के कारण यह है ज्यादा ऊंचाई तक और ज्यादा देर तक उड़ नहीं पाता है इसलिए यह ज्यादातर चलना ही पसंद करता है. त्यांचे आवडते अन्नधान्य, मऊ देठ आणि पाने, कीटक, साप, सरडे इ. म्हणूनच भारत देशाला सर्व देशांनी राष्ट्र असेही म्हटले आहे.


Next

मोर निबंध व संपूर्ण माहिती Peacock Essay in Marathi

mor pakshi

मोर फळे, धान्य, कीटक, साप इत्यादी खातात व जंगलातल्या झाडांवर राहतात. मोर भारत का राष्ट्रीय पक्षी है। मोर एक बहुत ही सुंदर, आकर्षक और जमीन पर रहने वाला पक्षी है। मोर को मयूर भी कहा जाता है। मोर की पंख बहुत ही आकर्षक होता हैं और मोर के पास बहुत सारे पंख होते हैं। मोर वैसे तो पंख नहीं फैलाता है लेकिन बसंत ऋतु और वर्षा ऋतु में मोर जब खुशी से नाचता है तो वह अपने सारे पंख फैला लेता है, पंख फैलाने के बाद मोर काफी सुंदर दिखता है। मोर का पंख सभी को पसंद आता है। मोर के पंख को सजावट का सामान के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। कृष्ण भगवान अपने सिर पर मोर पंख लगाते थे जो सभी लोगों को बहुत ही लुभाता है। मोर का पंख बच्चों को भी बहुत ज्यादा पसंद है, कई बच्चे मोर के पंख को अपनी किताबों में रखते हैं। पुराने जमाने में कालिदास भी मोर के पंख से लिखा करते थे। मोर ज्यादातर जंगलों में रहता हैं और वह जमीन पर ही रहता हैं, मोर घोंसला नहीं बनाता है। मोर को सांप खाना बहुत पसंद है। मोर को देखते ही लोगों का मन खुश हो जाता है। मोर का पंख इतना सुंदर होता है कि उसका जवाब नहीं, लगता है मानो कोई बहुत बड़े कलाकार ने मोर के पंख की सजावट की है। नर मोर के कई पंख होते हैं जिसे सभी लोग पसंद करते हैं। मादा मोरनी के पंख नहीं होते हैं। बहुत सारे गहने भी मोर के पंख की तरह दिखने वाले बनाए जाते हैं। कई सारे कुर्सियों के पीठ वाला हिस्सा मोर पंख के डिजाइन में बनाया जाता है, लोगों को यह देखने में बहुत सुंदर लगता है। मोर को पक्षियों का राजा भी कहा जाता है। नर मोर के सिर पर बड़ी सी कलंगी बना होता है जो देखने में मुकुट की तरह होता है, मोर दिखने में सही में एक राजा की तरह होता है। मोर सिर्फ भारत का ही राष्ट्रीय पक्षी नहीं है, वह म्यानमार का भी राष्ट्रीय पक्षी है। word count: 300. Peacock के सिर पर चांद जैसी आकृति में छोटी-छोटी पंखुड़ियां बनी हुई होती हैं लोगों के अनुसार यह उसका ताज है इसीलिए पक्षियों में इसे राजा कहा जाता है. त्याच्या आकर्षक रंगीत पंखांची लांबी सुमारे 1 ते 15 मीटर असते. मोर पक्षी इतना सतर्क होता है जी जब भी कोई प्राकृतिक आपदा आती है तो उसका उसे पहले ही पता चल जाता है और वह तेज आवाज में आवाज करके सभी पक्षियों और लोगों को इस बारे में सूचित कर देता है आपने देखा होगा भी कई बार भूकंप आने से पहले और तेज आवाज में बोलने लग जाता है.

Next

राष्ट्रीय पक्षी मोर पर निबंध

mor pakshi

लेकिन आज भी इस पक्षी का शिकार किया जाता है इस पर सरकार को विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है. त्यांना नद्या आणि पाण्याच्या स्त्रोताजवळील जंगले आवडतात. भारतीय मोर त्याच्या डोक्यावर अर्ध-चंद्राच्या आकाराची शिखा धारण करतो तर बर्मी मोराला टोकदार कळस असतो. उसके पैरों का रंग मटमैले सफेद रंग का होता है और इसके पंजे तीखे और नुकीले होते है. मोर ज्यादातर हरियाली वाले क्षेत्र और खेतों में ही पाया जाता है और यह पानी के निश्चित स्त्रोत के पास अक्सर नजर आता है इसलिए यह भारतीय गांव में ज्यादा देखा जाता है. आपल्या साहित्यात, शिल्पकला, चित्रकला आणि कोरीव कामामध्ये मोराला फार प्राचीन काळापासून स्थान मिळाले आहे. जगातील अनेक सभ्यतांमध्ये मोर हा अतिशय सुंदर आणि योग्य पक्षी मानला जात असला, तरी भारतात इतर कोणत्याही पक्ष्याला मोरासारखे मानले जात नाही.

Next

Maza avadta pakshi mor nibandh

mor pakshi

Handbook of the Birds of the World. मोराला त्याच्या तीक्ष्ण चोचीने साप मारण्याची शक्ती असते. मोर की आंखें और मोहे छोटा होता है. मोर रंगाने चमकदार हिरवटनिळ्या रंगाचा असतो. ADVERTISEMENTS: मोर पर अनुच्छेद Paragraph on Peacock in Hindi! मोर बऱ्याचदा शेतात, गावांमध्ये आणि मानवी वस्तीच्या शहरी भागात आढळतात.

Next